ऑनलाइन खेल सोने की खान

ऑनलाइन खेल सोने की खान

time:2021-10-20 02:36:53 अगले साल 87% कंपनियां बढ़ाएंगी वेतन : सर्वे Views:4591

फीनिक्स फोर्ज ऑनलाइन खेल सोने की खान betway इंडिया कांटेक्ट नंबर,fun88 चहचहाना,lovebet 50 से 1 इंग्लैंड,lovebet आईओएस,lovebet टिकट कोड चेकर,बैक वलहैला में 3 स्लॉट,बैकरेट बैंक गेम,बैकरेट खेलने की रणनीति,एंडोक्रिनोलॉजी और मधुमेह विज्ञान के लिए सर्वश्रेष्ठ पांच एमसीक्यू,एक लवबेट वाउचर खरीदें,कैसीनो पैसा,शतरंज मैं उसे बहुत अच्छी तरह से जानता हूँ गीत,क्रिकेट की किताबें लाइव स्कोर,क्रिकेटर डी मालनी,यूरोपीय कप फाइनल मकाऊ बॉल सेट,फुटबॉल सट्टेबाजी वेबसाइट नेविगेशन,गा पोकर नाइट्स,खुश किसान मांस बाजार,मैं एक सेलेब लवबेट हूं,जैकपॉट बिंगो गेम्स लेक्सिंगटन क्यो,लेडीबर्ड क्रिकेट बुक,लाइव फुटबॉल मैच,लॉटरी एमडी,m lovebetinr com रजिस्टर में,ऑनलाइन कैसीनो कैसुमो,ऑनलाइन गेम वीडियो,ऑनलाइन स्लॉट nz,पोकर 4 2 नियम,पोकर यारी,रूले क्वाड्रचींटियों,रम्मी गेम कैसे खेले,एस क्रिकेट लाइव आईपीएल,स्लॉट्स का हिंदी अर्थ,खेल संबंधी गतिविधियां जो मांसपेशियों को मजबूत करती हैं,तीन पत्ती राजा,baccarat में सबसे लंबी केबल,वर्चुअल क्रिकेट लीग 5 ओवर 2021,वाइल्डज़ वेरबंग गीत,OG ओरिएंटल रूम,करीना सॉन्ग,क्षत्रिय स्टेटस इन संस्कृत,जैकपॉट इंडिया लाटरी कॉम,पोकर online poker,बरसात स्टेटस,राजा बाइसन,स्टेटस बनाने का ऐप, .अगले साल 87% कंपनियां बढ़ाएंगी वेतन : सर्वे

सर्वे के अनुसार, घरेलू बाजार में काम कर रही कंपनियों ने इस साल कर्मचारियों के वेतन में औसत 6.1 फीसदी की वृद्धि की.
नई दिल्ली : भारत में काम करने वाली करीब 87 फीसदी कंपनियां 2021 में कर्मचारियों का वेतन बढ़ाने की योजना बना रही हैं. इसके मुकाबले 2020 में करीब 71 फीसदी कंपनियों ने ही वेतन में वृद्धि की. ग्‍लोबल प्रोफेशनल सर्विसेज फर्म एओन के सर्वे से इसका पता चलता है.

सर्वे के अनुसार, कोरोना संकट से प्रभावित अर्थव्यवस्था के दौर में घरेलू बाजार में काम कर रही कंपनियों ने इस साल कर्मचारियों के वेतन में औसत 6.1 फीसदी की वृद्धि की. यह पिछले एक दशक में सबसे निचला स्तर है. हालांकि, अगले साल औसत वेतनवृद्धि 7.3 फीसदी रहने का अनुमान है.

इसे भी पढ़ें : घर खरीदने के लिए क्‍या यह सबसे अच्‍छा समय है?

एओन की बुधवार को जारी सर्वे रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में काम करने वाली कंपनियों ने कोविड-19 से जुड़ी चुनौतियों के बावजूद लचीलारुख दिखाया है. 2020 में करीब 71 फीसदी कंपनियों ने वेतन में वृद्धि की. जबकि 2021 में 87 फीसदी कंपनियां वेतनवृद्धि करने के पक्ष में हैं.

सर्वे के मुताबिक, भारत में औसत वेतनवृद्धि 2020 में 6.1 फीसदी रही. यह 2009 के 6.3 फीसदी के औसत से भी नीचे है. एओन के 'सैलरी ट्रेंड्स सर्वे इन इंडिया' में कहा गया है कि अगले साल कंपनियां वेतन में औसत 7.3 फीसदी की वृद्धि करेंगी. एओन ने इसके लिए 20 से अधिक इंडस्‍ट्रीज की 1,050 कंपनियों के बीच सर्वे किया था.

सितंबर-अक्टूबर 2020 की स्थिति तक 87 फीसदी कंपनियों ने 2021 में वेतनवृद्धि देने की प्रतिबद्धता जताई. जबकि इसमें 61 फीसदी कंपनियों ने कहा कि वे पांच से 10 फीसदी की वेतनवृद्धि देंगी.

इसे भी पढ़ें : होम लोन की मांग बढ़ने से बैंकों में छिड़ी ब्‍याज दर घटाने की जंग

वर्ष 2020 में 71 फीसदी कंपनियों ने वेतनवृद्धि दी. इसमें से 45 फीसदी ने पांच से 10 फीसदी के बीच वेतनवृद्धि दी. एओन में पार्टनर और सीईओ (परफॉर्मेंस एंड रिवॉर्ड सॉल्‍यूशंस) नितिन सेठी ने कहा, ''यह एक अनोखा साल है. कंपनियां अपने कर्मचारियों और ग्राहकों में निवेश कर रही हैं. कोविड-19 के गहरे असर के बावजूद कंपनियों ने कर्मचारियों को लेकर परिपक्‍व और लचीला रुख दिखाया है.''

हाई-टेक, आईटी, आईटीईएस, लाइफ साइंसेज, ई-कॉमर्स, केमिकल्‍स और प्रोफेशनल सर्विसेज ऐसे सेक्‍टरों में हैं जिनमें सबसे ज्‍यादा वेतनवृद्धि होने के आसार हैं.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

वेतनवृद्धिसैलरी ट्रेंड्स सर्वे इन इंडियाकंपन‍ियांएओनसैलरी में बढ़ोतरीसर्वे

ETPrime stories of the day

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival
Recent hit

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival

11 mins read
Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?
Electric vehicles

Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?

10 mins read
Kisan Credit Card is critical for agriculture. But can the scheme overcome the challenges?
Agriculture

Kisan Credit Card is critical for agriculture. But can the scheme overcome the challenges?

7 mins read

कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के कारण विभिन्न क्षेत्रों में छंटनी, वेतन में कटौती या कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी रुक गई है. हालांकि, कई बड़े निजी क्षेत्र के बैंकों ने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की है.नयी दिल्ली, 19 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर सरकार द्वारा किए गए केंद्रित प्रयासों की वजह से आज भारतीय और वैश्विक निवेशक इस संघ शासित प्रदेश में निवेश करना चाहते है। केंद्र सरकार के जनता तक पहुंच के कार्यक्रम के तहत गोयल की दो दिन की पहलगाम यात्रा मंगलवार को संपन्न हुई। पहलगाम में अपने संबोधन में गोयल ने विकास प्रक्रिया में भागीदारी के लिए कश्मीर के लोगों का आभार जताया। एक आधिकारिक बयान के अनुसार, गोयल ने पर्यटन गतिविधियों के प्रसार में उनकी प्रतिबद्धता की सराहना की। उन्होंने कहाआईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ का दूसरी तिमाही का शुद्ध लाभ 47 प्रतिशत बढ़कर 445 करोड़ रुपये

रिपोर्ट में कहा गया है कि अनलॉक उपायों के बाद आवाजाही में सुधार से रियल एस्टेट क्षेत्र में नियुक्ति गतिविधियां 44 फीसदी सुधरी हैं.नयी दिल्ली, 19 अक्टूबर (भाषा) हाजिर बाजार में कमजोरी के रुख को देखते हुए कारोबारियों ने अपने सौदों की कटान की जिससे वायदा कारोबार में मंगलवार को बिनौलातेल खली की कीमत 40 रुपये की गिरावट के साथ 2,476 रुपये प्रति क्विन्टल रह गई। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि हाजिर बाजार की कमजोर मांग के बीच मौजूदा स्तर पर कारोबारियों द्वारा अपने सौदों की बिकवाली करने से मुख्यत: बिनौलातेल खली वायदा कीमतों में गिरावट दर्ज हुई। एनसीडीईएक्स में बिनौलातेल खली के दिसंबर माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 40 रुपये अथवा 1.59 प्रतिशतक्‍या आप एमबीए करना चाहते हैं? ये 6 बातें करेंगी आपकी मदद

नयी दिल्ली,19 अक्टूबर (भाषा) भारत फसल अवशेष जलाने से जुड़े उत्सर्जन में शीर्ष स्थान पर है। जलवायु प्रौद्योगिकी स्टार्टअप ब्लू स्काई एनालिटिक्स द्वारा जारी एक नयी रिपोर्ट में यह दावा किया गया है। इसके मुताबिक भारत, 2015 से 2020 की अवधि के दौरान कुल वैश्विक उत्सर्जन के 13 फीसदी हिस्से के लिए जिम्मेदार है। ब्लू स्काई एनालिटिक्स की स्थापना भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) के एक पूर्व छात्र ने की है। स्टार्टअप ने 2020 में फसल अवशेष जलाने से होने वाले उत्सर्जन के 12.2 प्रतिशत हिस्से के लिए भारत के जिम्मेदार रहने का जिक्र किया है। रिपोर्ट में उपलब्ध आंकड़ोंएओन की बुधवार को जारी सर्वे रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में काम करने वाली कंपनियों ने कोविड-19 से जुड़ी चुनौतियों के बावजूद लचीलारुख दिखाया है.ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने सफल टीकाकरण को लेकर भारतीय कंपनी वोकहार्ट की सराहना की

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
बकरा जानवर

कई ग्राहक मोरेटोरियम और उससे पड़ने वाले असर को नहीं समझते हैं. इसे देखते हुए कलेक्‍शन में बाधा आई है.

कैसीनो सात दिन मौसम पूर्वानुमान

कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के कारण विभिन्न क्षेत्रों में छंटनी, वेतन में कटौती या कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी रुक गई है. हालांकि, कई बड़े निजी क्षेत्र के बैंकों ने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की है.

lovebet 509

मुंबई, 19 अक्टूबर (भाषा) आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस कंपनी का शुद्ध लाभ सितंबर में समाप्त चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में 47 प्रतिशत बढ़कर 445 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी ने 303 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था। शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कंपनी ने कहा कि तिमाही के दौरान उसकी कुल आय बढ़कर 23,188 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले समान अवधि में 16,715 करोड़ रुपये थी। जून तिमाही में निजी क्षेत्र की दूसरी सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी को 500 करोड़ रुपये के

स्लॉट मशीन मेमे

अच्‍छे ब्रांड से दो साल का एमबीए मार्केट की बदली हुई स्थितियों में काफी फायदेमंद साबित हो सकता है. एमबीए की डिग्री आपको विश्‍वसनीयता हासिल करने में मदद करती है. फिर चाहे आपने किसी भी सेक्‍टर में काम किया हो.

ओलिंप

नयी दिल्ली, 19 अक्टूबर (भाषा) टीवी18 ब्रॉडकास्ट लि. ने मंगलवार को कहा कि 30 सितंबर, 2021 को समाप्त चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में उसका एकीकृत शुद्ध लाभ दोगुना होकर 231.40 करोड़ रुपये रहा। मीडिया कंपनी ने शेयर बाजार को दी गयी नियामकीय सूचना में कहा कि कंपनी ने एक साल पहले इसी अवधि में 115.55 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था। समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी की एकीकृत परिचालन आय 29.14 प्रतिशत बढ़कर 1,307.90 करोड़ रुपये हो गया। एक साल पहले इसी अवधि में यह 1,012.80 करोड़ रुपये था। कंपनी ने एक बयान में कहा, "तिमाही के लिए एकीकृत

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी
बैकारेट कार्ड गिनती विधि

नयी दिल्ली, 19 अक्टूबर (भाषा) भारत ने वैश्विक खाद्य सुरक्षा (जीएफएस) सूचकांक-2021 में 113 देशों के बीच 71वां स्थान हासिल किया है। भारत कुल अंकों के लिहाज से दक्षिण एशिया में सबसे अच्छे स्थान पर रहा लेकिन खाद्य पदार्थों की वहनीयता के मामले में अपने पड़ोसी देशों पाकिस्तान और श्रीलंका से पीछे है।खाद्य पदार्थ वहनीयता श्रेणी में पाकिस्तान (52.6 अंक के साथ) ने भारत (50.2 अंक) से बेहतर अंक हासिल किया है।इकनॉमिस्ट इम्पैक्ट और कोर्टेवा एग्रीसाइंस द्वारा मंगलवार को जारी एक वैश्विक रिपोर्ट में कहा गया कि जीएफएस इंडेक्स-2021 की इस श्रेणी में श्रीलंका 62.9 अंकों के साथ और भी बेहतर