छोटी कार

छोटी कार

time:2021-10-20 01:50:02 टीवी18 का दूसरी तिमाही में शुद्ध लाभ दोगुना होकर 231 करोड़ रुपये पर Views:4591

कैसीनो गौरव छोटी कार betway दस्तावेज़ सत्यापन,fun88 og,lovebet 403 त्रुटि,lovebet होल्डिंग्स (माल्टा) लिमिटेड,lovebet टोंग 100k,201 पूल रम्मी नियम,बैकरेट मनोरंजन पार्क,बैकरेट ऑनलाइन डेमो,सर्वश्रेष्ठ मोबाइल फ़ुटबॉल सट्टेबाजी वेबसाइट,बुक माय शो क्रिकेट लखनऊ,कैसीनो किंग्स,नकद देने के लिए शतरंज खाता खोलना,क्रिकेट की किताब फेलिक्स,क्रिकेट एक्स फैक्टर,यूरोपीय सट्टेबाज आधिकारिक वेबसाइट,फुटबॉल सट्टेबाजी खाता खोलना,जी फुटबॉल लोगो,खुश किसान खेल,मैं शतरंज मुक्त,जे स्पोर्ट्स 4,ला क्रिकेट लीग,लाइव कैसीनो वेस्टमोरलैंड काउंटी,लॉटरी केरल,लूडो यार्स गेम,ऑनलाइन नकद शतरंज और कार्ड मंच,ऑनलाइन गेम त्वरित ड्रा,ऑनलाइन स्लॉट आयरलैंड,रमी के लिए बिंदु मान,पोकर वारंटी,रूले गीत,मोबाइल पर रम्मी सर्कल,रम्मीकल्चर जोन,स्लॉट युग मुक्त सिक्के,स्पोर्ट्स ओ रमा मैटीडेल न्यू,तीन पत्ती पंखा,सबसे बड़ी यूरोपीय फुटबॉल गेमिंग कंपनी,घर पर आभासी क्रिकेट,वाइल्डज़ कैसीनो भारत,football माहिती मराठी,करीना टमाटर,क्रिकेट या खेळाचे नियम,चोकर सेट,परिवार क्यों टूटता है,बरसात भी आकर चली गई lyrics,रमी बेस्ट,स्टेटस दिल को छूने वाले, .टीवी18 का दूसरी तिमाही में शुद्ध लाभ दोगुना होकर 231 करोड़ रुपये पर

नयी दिल्ली, 19 अक्टूबर (भाषा) टीवी18 ब्रॉडकास्ट लि. ने मंगलवार को कहा कि 30 सितंबर, 2021 को समाप्त चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में उसका एकीकृत शुद्ध लाभ दोगुना होकर 231.40 करोड़ रुपये रहा।

मीडिया कंपनी ने शेयर बाजार को दी गयी नियामकीय सूचना में कहा कि कंपनी ने एक साल पहले इसी अवधि में 115.55 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था।

समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी की एकीकृत परिचालन आय 29.14 प्रतिशत बढ़कर 1,307.90 करोड़ रुपये हो गया। एक साल पहले इसी अवधि में यह 1,012.80 करोड़ रुपये था।

कंपनी ने एक बयान में कहा, "तिमाही के लिए एकीकृत ईबीआईटीडीए (ब्याज, कर, मूल्यह्रास और परिशोधन से पहले की कमाई) में सालाना आधार पर 53 प्रतिशत की वृद्धि हुई।"

टीवी18 ने बताया कि समाचार और मनोरंजन दोनों कारोबारों ने लाभप्रदता में और सुधार किया।

समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी का कुल खर्च 1,104 करोड़ रुपये रहा, जो पिछले साल इसी तिमाही के 909.82 करोड़ रुपये से 21.34 प्रतिशत ज्यादा है।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival
Recent hit

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival

11 mins read
Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?
Electric vehicles

Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?

10 mins read
Kisan Credit Card is critical for agriculture. But can the scheme overcome the challenges?
Agriculture

Kisan Credit Card is critical for agriculture. But can the scheme overcome the challenges?

7 mins read

नयी दिल्ली, 19 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर सरकार द्वारा किए गए केंद्रित प्रयासों की वजह से आज भारतीय और वैश्विक निवेशक इस संघ शासित प्रदेश में निवेश करना चाहते है। केंद्र सरकार के जनता तक पहुंच के कार्यक्रम के तहत गोयल की दो दिन की पहलगाम यात्रा मंगलवार को संपन्न हुई। पहलगाम में अपने संबोधन में गोयल ने विकास प्रक्रिया में भागीदारी के लिए कश्मीर के लोगों का आभार जताया। एक आधिकारिक बयान के अनुसार, गोयल ने पर्यटन गतिविधियों के प्रसार में उनकी प्रतिबद्धता की सराहना की। उन्होंने कहाडेट म्‍यूचुअल फंडों की कई कैटेगरी हैं. मनी मार्केट म्‍यूचुअल फंड उनमें से एक है. ये स्‍कीमें उन लोगों के लिए मुफीद होती हैं जो अपने निवेश के साथ बहुत कम जोखिम लेना चाहते हैं. चूंकि ये स्‍कीमें छोटी अवधि के इंस्‍ट्रूमेंट में पैसा लगाती हैं. इसलिए इन पर अर्थव्‍यवस्‍था में ब्‍याज दर में होने वाले बदलाव का ज्‍यादा असर नहीं पड़ता है. मनी मार्केट इंस्‍ट्रूमेंट के साथ कम जोखिम होने के कारण भी इनमें निवेश अपेक्षाकृत सुरक्षित होता है. आइए, यहां इनके बारे में कुछ जरूरी बातों को जानते हैं.मनी मार्केट म्यूचुअल फंडों के बारे में ये 5 बातें जान लें, होगा फायदा

नयी दिल्ली, 19 अक्टूबर (भाषा) नेटवर्क 18 मीडिया एंड इनवेस्टमेंट्स लि. का एकीकृत शुद्ध लाभ वित्त वर्ष 2021-22 की जुलाई-सितंबर तिमाही में करीब तीन गुना होकर 199.27 करोड़ रुपये रहा। आय और परिचालन में सुधार तथा वित्तीय लागत कम होने से कंपनी का लाभ बढ़ा है। मीडिया कंपनी ने मंगलवार को शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि इससे पूर्व वित्त वर्ष 2020-21 की इसी तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ 68.01 करोड़ रुपये था। कंपनी की परिचालन आय आलोच्य तिमाही में 30.76 प्रतिशत बढ़कर 1,387.24 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले 2020-21 की जुलाई-सितंबर तिमाही में 1,060.89समय गुजरने के साथ उन्‍हें इक्विटी में निवेश कम कर देना चाहिए. इसके बजाय धीरे-धीरे डेट फंडों की ओर रुख करना चाहिए.ईटीएफ के बारे में यहां जानिए अपने हर सवाल का जवाब

बेहतर और सरल रिटर्न के लिए निवेशक साधारण प्रोडक्ट्स का रुख कर रहे हैं. सरकार ने अप्रैल-जून तिमाही में ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है.एक साल पहले इस फंड के अनुभवी मैनेजर ने इस्तीफा दिया. हालांकि, स्‍कीम की बागडोर मजबूत प्रबंधन के हाथों में है. निवेश के तरीके में कोई बड़ा बदलाव नहीं हुआ है.सोने की मांग वर्ष 2022 में मजबूत रहने की संभावना: डब्ल्यूजीसी

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
बैकारेट क्रैकिंग विश्लेषण

नयी दिल्ली, 19 अक्टूबर (भाषा) टाटा स्टील बीएसएल का एकीकृत शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष 2021-22 की जुलाई-सितंबर तिमाही में पांच गुना उछलकर 1,837.03 करोड़ रुपये रहा। मुख्य रूप से आय बढ़ने से कंपनी का लाभ बढ़ा है।कंपनी ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि इससे पूर्व वित्त वर्ष 2020-21 की इसी तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ 341.71 करोड़ रुपये था। टाटा स्टील बीएसएल की कुल आय सितंबर, 2021 को समाप्त तिमाही में बढ़कर 8,329.68 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले इसी तिमाही में 5,545.35 करोड़ रुपये थी। उल्लेखनीय है कि टाटा स्टील ने 18 मई,

ऑनलाइन स्लॉट ब्रिटेन बोनस

समय गुजरने के साथ उन्‍हें इक्विटी में निवेश कम कर देना चाहिए. इसके बजाय धीरे-धीरे डेट फंडों की ओर रुख करना चाहिए.

विकास गेमिंग

इंडेक्‍स फंडों की तरह ईटीएफ अमूमन किसी खास मार्केट इंडेक्स को ट्रैक करते हैं. इनका प्रदर्शन उस इंडेक्‍स जैसा होता है.

परिमच रेफर करें और कमाएं

नयी दिल्ली,19 अक्टूबर (भाषा) भारत फसल अवशेष जलाने से जुड़े उत्सर्जन में शीर्ष स्थान पर है। जलवायु प्रौद्योगिकी स्टार्टअप ब्लू स्काई एनालिटिक्स द्वारा जारी एक नयी रिपोर्ट में यह दावा किया गया है। इसके मुताबिक भारत, 2015 से 2020 की अवधि के दौरान कुल वैश्विक उत्सर्जन के 13 फीसदी हिस्से के लिए जिम्मेदार है। ब्लू स्काई एनालिटिक्स की स्थापना भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) के एक पूर्व छात्र ने की है। स्टार्टअप ने 2020 में फसल अवशेष जलाने से होने वाले उत्सर्जन के 12.2 प्रतिशत हिस्से के लिए भारत के जिम्मेदार रहने का जिक्र किया है। रिपोर्ट में उपलब्ध आंकड़ों

lovebet यूटबेटालेन

इंडेक्‍स फंडों की तरह ईटीएफ अमूमन किसी खास मार्केट इंडेक्स को ट्रैक करते हैं. इनका प्रदर्शन उस इंडेक्‍स जैसा होता है.

संबंधित जानकारी
वाई फुटबॉल खिलाड़ी

नयी दिल्ली, 19 अक्टूबर (भाषा) भारत की पेंशन प्रणाली 43 व्यवस्थाओं की रैंकिंग में 40वें स्थान पर है। वहीं पेंशन के मामले में पर्याप्त लाभ से जुड़े पर्याप्तता उप-सूचकांक (एडिक्वेसी सब-इंडेक्स) के मामले में निचले पायदान पर है।मंगलवार को जारी मर्सर सीएफए वैश्विक पेंशन सूचकांक (एमसीजीपीआई) में यह कहा गया है। इसके अनुसार देश में सेवानिवृत्ति के बाद पर्याप्त आय सुनिश्चित करने को लेकर पेंशन प्रणाली को बेहतर बनाने लिये रणनीतिक सुधारों की जरूरत है। रिपोर्ट के अनुसार, भारत में सामाजिक सुरक्षा का दायरा मजबूत और पर्याप्त नहीं होने से कार्यबल को पेंशन की व्यवस्था को लेकर स्वयं बचत करनी होती

गरम जानकारी