ऑनलाइन गेमिंग फोरम

ऑनलाइन गेमिंग फोरम

time:2021-10-21 09:56:07 New Rules For International Travelers: अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए मोदी सरकार ने जारी किए नए नियम, जानिए क्या हैं ये Views:4591

शीर्ष दस सट्टेबाजों की रैंकिंग ऑनलाइन गेमिंग फोरम betway असली है या नहीं,fun88 राजस्व,lovebet 5 फ्री बेट,lovebet छवियां,lovebet थाई फेसबुक,3 रील स्लॉट ऑनलाइन,बैकरेट आर्केड गेम डाउनलोड,बैकारेट पैक किल नेट,पांच खेलों में सर्वश्रेष्ठ,बुकमेकर वेबसाइट,कैसीनो एल आइल एडम,शतरंज भी,क्रिकेट बुक माय शो पुणे,क्रिकेट यॉर्कर किंग,यूरोपीय कप सट्टेबाजी,फुटबॉल सट्टेबाजी ऑनलाइन,जी स्पोर्ट्स वसुंधरा,खुश किसान जावा गेम,मैं पोकर रेक,जैकेट ब्लाउज डिजाइन,ला लॉटरी जीतने की संख्या,लाइव डीलर ब्लैकजैक फ्री,लॉटरी लगाना है,एम कैसीनो नौकरियां,ऑनलाइन कैसीनो और पोकर,ऑनलाइन गेम परीक्षक नौकरियां,ऑनलाइन स्लॉट मलेशिया,पोकर 101,पोकर कार्य उपकरण,रूले संख्या भविष्यवक्ता,रमी डोमेन कस्टमर केयर नंबर,रश माल्ट्ज फिशिंग शो,स्लॉट हॉल कैसीनो,स्पोर्ट्स पैंटी,तीन पत्ती गोल्ड फ्री चिप्स,नवीनतम फ़ुटबॉल लाभ विधि,आभासी क्रिकेट फिट्ज़रोविया,वाइल्डज़ मुफ़्त,lottery लाटरी संबाद,करीना भगवान,क्रिकेट शायरी हिंदी,छोटे स्पोर्ट्स,पासा का अर्थ,बरसात राज कपूर नरगिस,रमी वीडियो,स्टेटस न्यू 2020, .New Rules For International Travelers: अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए मोदी सरकार ने जारी किए नए नियम, जानिए क्या हैं ये

Story outline

  • मोदी सरकार ने कोरोना काल में सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं
  • इसमें कोरोना का टीका लगवाने से लेकर खुद को अलग रखने तक के नियम शामिल हैं
  • यह मानक संचालन प्रक्रिया 25 अक्टूबर से अगले आदेश तक वैध रहेगी
  • स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जोखिम आकलन के आधार पर दिशानिर्देशों की समय-समय पर समीक्षा की जाएगी
नई दिल्ली
New Rules For International Travelers: सरकार ने अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए बुधवार को संशोधित दिशानिर्देश जारी किए। इन संशोधित दिशानिर्देशों के अनुसार जिन यात्रियों को टीके की सभी खुराक लगी हुई हैं और एक ऐसे देश से आने वाले यात्रियों को हवाई अड्डे से बाहर जाने की अनुमति दी जायेगी जिसके साथ भारत ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) द्वारा अनुमोदित कोविड-19 टीकों की पारस्परिक स्वीकृति के लिए परस्पर व्यवस्था की है और ऐसे यात्रियों को 25 अक्टूबर से पृथक-वास में रहने और जांच की जरूरत नहीं होगी।

हालांकि, उन्हें एक नकारात्मक कोविड-19 आरटी-पीसीआर रिपोर्ट पेश करनी होगी। यदि टीकाकरण नहीं किया गया है, तो यात्रियों को ऐसे उपाय करने होंगे जिनमें आगमन के बाद कोविड-19 जांच के लिए नमूना देना शामिल है, जिसके बाद उन्हें हवाई अड्डे से बाहर जाने की अनुमति दी जाएगी, और उन्हें सात दिनों के लिए पृथक-वास में रहना होगा।

दिशानिर्देशों के अनुसार भारत में पहुंचने के आठवें दिन उनकी फिर से जांच होगी और यदि रिपोर्ट नकारात्मक आती है तो उन्हें अगले सात दिनों तक अपने स्वास्थ्य की खुद से निगरानी करनी होगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय आगमन के लिए 17 फरवरी, 2021 को और उसके बाद इस विषय पर दिशानिर्देश जारी किये गये थे लेकिन अब ये संशोधित दिशानिर्देश मान्य होंगे।

मंत्रालय ने कहा, "दुनियाभर में टीकाकरण का बढ़ता दायरा और महामारी की बदलती प्रवृत्ति को देखते हुए, भारत में अंतरराष्ट्रीय आगमन के मौजूदा दिशानिर्देशों की समीक्षा की गई है। यह मानक संचालन प्रक्रिया 25 अक्टूबर से अगले आदेश तक वैध रहेगी। उसने कहा कि जोखिम आकलन के आधार पर दिशानिर्देशों की समय-समय पर समीक्षा की जाएगी।"

पेट्रोल-डीजल सस्ते होने के आसार, पीएम मोदी ने की दुनिया भर की तेल कंपनियों के सीईओ से हाई लेवल मीटिंग!

भारत ने इन 11 देशों के साथ किया है समझौता
मंत्रालय के अनुसार, भारत ने 11 देशों ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी, नेपाल, बेलारूस, लेबनान, आर्मेनिया, यूक्रेन, बेल्जियम, हंगरी और सर्बिया के साथ राष्ट्रीय स्तर पर या डब्ल्यूएचओ द्वारा मान्यता प्राप्त कोविड-19 टीकों की पारस्परिक मान्यता के लिए समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं।

इन देशों से आने वाले यात्री जिन्हें टीके की सभी खुराक लगाई गई हैं और कोविड-19 टीकाकरण पूरा होने के 15 दिन बीत चुके हैं, उन्हें संशोधित दिशानिर्देशों के अनुसार, हवाई अड्डे से बाहर जाने की अनुमति दी जाएगी और आगमन के बाद 14 दिनों के लिए अपने स्वास्थ्य की निगरानी करनी होगी।

दिशानिर्देशों के अनुसार यात्रा की योजना बनाते समय, सभी यात्रियों को निर्धारित यात्रा से पहले ऑनलाइन हवाई सुविधा पोर्टल पर स्व-घोषणा पत्र जमा कराना चाहिए और एक नकारात्मक कोविड-19 आरटी-पीसीआर रिपोर्ट अपलोड करनी चाहिए। दिशानिर्देशों के अनुसार यात्रा शुरू करने से 72 घंटे पहले यह जांच की जानी चाहिए।

एयर इंडिया फिर टाटा की झोली में, क्या लौट पाएगी खोई हुई प्रतिष्ठा?

कर्ज में डूबी सरकारी एयरलाइन कंपनी एयर इंडिया (Air India), अपने पुराने मालिक के पास लौट आई है। एयर इंडिया के लिए विनिंग बिड टाटा सन्स की इकाई ने जीती है। यह सौदा इस साल दिसंबर के अंत तक पूरा हो जाने की उम्मीद है।

In Video: एयर इंडिया फिर टाटा की झोली में, क्या लौट पाएगी खोई हुई प्रतिष्ठा?

टॉपिक

guidelines for international travelersnew rules for international travelersguidelines in coronavirus timecoronavirus in indiaअंतराष्ट्रीय यात्रियों के लिए नए नियम

ETPrime stories of the day

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’
Strategy

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’

8 mins read
Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle
Aviation

Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle

10 mins read
Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.
Banking

Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.

15 mins read

कई ग्राहक मोरेटोरियम और उससे पड़ने वाले असर को नहीं समझते हैं. इसे देखते हुए कलेक्‍शन में बाधा आई है.कई ग्राहक मोरेटोरियम और उससे पड़ने वाले असर को नहीं समझते हैं. इसे देखते हुए कलेक्‍शन में बाधा आई है.इलेक्ट्रिक युद्धपोत विकसित करने के लिए भारतीय नौसेना के साथ साझेदारी को इच्छुक रोल्स-रॉयस

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव ने बताया कि कोविड-19 महामारी के कारण अब तक परीक्षा आयोजित नहीं कराई जा सकी थी.अच्‍छे ब्रांड से दो साल का एमबीए मार्केट की बदली हुई स्थितियों में काफी फायदेमंद साबित हो सकता है. एमबीए की डिग्री आपको विश्‍वसनीयता हासिल करने में मदद करती है. फिर चाहे आपने किसी भी सेक्‍टर में काम किया हो.मोदी ने वैश्विक कंपनियों के प्रमुखों को तेल, गैस क्षेत्र में संभावना तलाशने को आमंत्रित किया

इसके साथ ही देश के इस सबसे बड़े बैंक ने कहा कि वॉलेंटरी रिटायरमेंट स्‍कीम (वीआरएस) लागत में कटौती करने के लिए नहीं है.जम्मू, 20 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय मंत्री बी एल वर्मा ने बुधवार को कहा कि केंद्र सरकार जम्मू-कश्मीर में सहकारिता क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि पूर्वोत्तर क्षेत्र सहकारिता एवं विकास राज्यमंत्री वर्मा केंद्र सरकार के जनसंपर्क कार्यक्रम के तहत यहां पहुंचे है। वर्मा ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार जम्मू-कश्मीर में सहकारी क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। सहकारिता विभाग को मजबूत और पुनर्जीवित करने के लिए केंद्र सरकार की तरफ से पहले ही कई पहल की जा चुकी हैं।’’ सहकारिताबांग्लादेश सीमा पर ट्रकों की लंबी प्रतीक्षा अवधि से निर्यातक नाराज

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
बुक माय शो क्रिकेट टिकट रायपुर

कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के कारण विभिन्न क्षेत्रों में छंटनी, वेतन में कटौती या कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी रुक गई है. हालांकि, कई बड़े निजी क्षेत्र के बैंकों ने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की है.

स्पोर्ट्सबुक ऑड्स तुलना

जून में कर्मचारी राज्‍य बीमा स्‍कीम (ईएसआईसी) से जुड़ने वाले मेंबर्स की संख्‍या में भी तेज इजाफा हुआ है.

जोकर धुन

नयी दिल्ली, 20 अक्टूबर (भाषा) भारत ने विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) से कहा है कि मत्स्य पालन सब्सिडी पर मौजूदा मसौदा ‘असंतुलित’ है और इसे बातचीत के लिए स्वीकार नहीं किया जा सकता। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी है। अधिकारी ने कहा कि मसौदे में भारत द्वारा प्रस्तावित सुझावों को शामिल करने के बाद ही इसे बातचीत के लिए स्वीकार किया जा सकता है। भारत समय-समय पर कहता रहा है कि वह डब्ल्यूटीओ में मत्स्य पालन सब्सिडी के करार को अंतिम रूप देने का इच्छुक है, क्योंकि कई देशों द्वारा अत्यधिक मछलियां पकड़ने और तर्कहीन लाभों से घरेलू मछुआरों

क्रिकेट विश्व कप 2023

मुंबई, 20 अक्टूबर (भाषा) भारतीय रिजर्व बैंक ने कुछ निर्देशों का पालन नहीं करने पर पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड (पीपीबीएल) पर एक करोड़ रुपये और वेस्टर्न यूनियन फाइनेंशियल सर्विसेज पर 27.78 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। आरबीआई ने बुधवार को एक विज्ञप्ति में कहा कि अंतिम अधिकरण प्रमाणपत्र (सीओए) जारी करने के लिए पीपीबीएल के आवेदन की जांच करने पर यह पाया गया कि उसने ऐसी जानकारी प्रस्तुत की थी जो तथ्यात्मक स्थिति को नहीं दर्शाती थी। विज्ञप्ति में कहा गया, ‘‘चूंकि यह भुगतान और निपटान

शासन शक्ति

नयी दिल्ली, 20 अक्टूबर (भाषा) सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी नाल्को ने बुधवार को ओडिशा के अंगुल में कंपनी की ‘लीन स्लरी’ (राख, गारे को निकालने की व्यवस्था) परियोजना के उद्घाटन की घोषणा की। ‘लीन स्लरी’ परियोजना के पूरा होने से कंपनी के निजी बिजली संयंत्र या कैप्टिव पावर प्लांट (सीपीपी) में उत्पन्न राख का 100 प्रतिशत उपयोग सुनिश्चित होगा। यह पर्यावरण अनुकूल और टिकाऊ संचालन के प्रति अपनी प्रतिबद्धता में एक बड़ा कदम है। बयान में कहा गया, ‘‘खान मंत्रालय के सचिव, आलोक टंडन (आईएएस) ...

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी