लॉटरी कल रात 8 बजे

Publishing time:2021-10-20 01:47:58

क्रिकेट photo लॉटरी कल रात 8 बजे betway मिनिमम डिपॉजिट इंडिया,लियोवेगास कनाडा,lovebet 8 कैशबैक,lovebet का प्रोमो कोड,lovebet यूके साइन अप ऑफर,3एमहैप्पी10,बैकरेट ब्लू शील्ड नकली नेट,बैकरेट छूट,बेस्ट ऑफ फाइव एक्स फैक्टर,कैश बैकरेट बेटिंग,कैसीनो ऑनलाइन याहू,शतरंज कौशल,क्रिकेट दिखाओ,दा स्पोर्ट्स शिमला,यूरोपीय कप फुटबॉल का समय,फुटबॉल विशेषज्ञ विश्लेषण,जुआ तकनीक वीडियो,खुश किसान वायलिन शीट संगीत,इंडीबेट हेड ऑफिस,जैकपॉट गेम मिस्ट्री बॉक्स,नवीनतम यूआरएल,लाइव रूले डीलर,लॉटरी पुराना परिणाम रात,मा लॉटरी,ऑनलाइन कैसीनो हैक APK,ऑनलाइन जुआ ऐप,ऑनलाइन स्लॉट ब्रिटेन पेपैल,पोकर 999,पोकरस्टार्स ट्रै एमिसि,रूले व्हील चयन,रम्मी तेंदुआ,श चेसन फार्म,वेगास के स्लॉट,स्पोर्ट्स यू तुलसा,तीन पत्ती नियम,गेमिंग मशीन,आभासी वास्तविकता क्रिकेट लीग,विश्व कप सट्टेबाजी,असली पैसे का खेल badminton,कैटरीना तीखोनोवा,खेलो पर जुआ font,जोकर छवियों,पोकरण मौसम,बेटा उदाहरण,लाइव वीडियो बैकरेट,स्टेटस वीडियो शेयर चैट, .ओएनजीसी के शेयरों में क्‍यों निवेश की सलाह दे रहे हैं विश्लेषक?

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

ओएनजीसी के शेयरों में क्‍यों निवेश की सलाह दे रहे हैं विश्लेषक?

31 में से 23 विश्लेषक इस शेयर में खरीद की सलाह दे रहे हैं. 4 का कहना है कि इसे होल्ड करना चाहिए.
अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल (क्रूड) की कीमत मजबूत हुई है. इसके साथ ही ओएनजीसी में विश्लेषकों की दिलचस्पी भी कई गुना बढ़ गई है. अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में कंपनी का औसत रियलाइजेशन (प्राप्ति) 43 डॉलर प्रति बैरल रहा. लिहाजा, हाल में कच्चे तेल की कीमतों में उछाल से ओएनजीसी को फायदा हो सकता है. मध्यम अवधि में क्रूड की कीमत 50 डॉलर से 70 डॉलर प्रति बैरल के बीच स्‍टेबल रह सकती है. तेल निर्यात करने वाले देशों के संगठन ओपेक के हस्तक्षेप से ऐसा हो सकता है. पिछली बैठक में सऊदी अरब ने खुद से उत्पादन में रोजाना 10 लाख बैरल की कमी जारी रखने पर सहमति जताई थी. दूसरे देशों ने भी उत्‍पादन नहीं बढ़ाने पर हामी भरी थी.

पिछले 10 साल में ओएनजीसी अपने उत्पादन में कोई बड़ी बढ़ोतरी करने में नाकामयाब रही है. निवेशकों की चिंता का यह बड़ा विषय था. हालांकि, विश्लेषक कहते हैं कि ओएनजीसी प्रोडक्‍शन के स्‍तर को कायम रखने में सफल रही है. जबकि दूसरी अपस्ट्रीम ऑयल कंपनियां ऐसा नहीं कर सकीं. यही कारण है कि ओएनजीसी की कुल प्रोडक्‍शन में हिस्सेदारी पिछले 10 साल में 53 फीसदी से बढ़कर 70 फीसदी हो गई.

इसे भी पढ़ें : नई व्हीकल स्क्रैपेज पॉलिसी का आपके लिए क्‍या है मतलब?

ओएनजीसी का क्रूड ऑयल प्रोडक्‍शन स्थिर बने रहने के आसार हैं. 2022-23 तक ओएनजीसी की अपना घरेलू गैस उत्पादन 0.3 एमएमएससीएमडी (मिलियन मेट्रिक स्‍टैंडर्ड क्‍यूबिक मीटर्स रोजाना) बढ़ाकर 8-9 एमएमएससीएमडी कर लेने की योजना है. 2023-24 तक 15 एमएमएससीएमडी तक पहुंचाने की तैयारी है.

मोजांबिक में ओएनजीसी विदेश और ऑयल इंडिया समर्थित ऑनशोर एलएनजी डेवलपमेंट की अच्छी प्रगति है. रोवुमा ऑफशोर एरिया-1 प्रोजेक्ट ने हाल में पहला चरण पूरा कर लिया है. वह प्रोजेक्ट के लिए अपने कर्जदारों से पैसा पाने के लिए तैयार है.

इसे भी पढ़ें : सुकन्‍या समृद्धि योजना के बारे में जानिए अपने हर सवाल का जवाब

ऑयल और गैस सेक्टर की कंपनियों के लिए सरकार का हस्तक्षेप मुख्य चुनौती रही है. पेट्रोलियम प्रोडक्‍टों को जीएसटी व्यवस्था में शामिल करने की मांग बढ़ रही है. वैसे, पेट्रोल और डीजल पर जीएसटी लागू होने की संभावना अभी कम है. विश्लेषकों को उम्मीद है कि सरकार आने वाले वर्षों में घरेलू प्राकृतिक गैस के मूल्य में मौजूद विसंगति को दूर करेगी. इसके चलते घरेलू उत्‍पादन को नुकसान होता है. इसके बाद ओएनजीसी को उसकी घरेलू प्राकृतिक गैस के लिए अच्‍छी दरें प्राप्‍त होंगी.

ओएनजीसी अभी उचित वैल्यूएशन पर कारोबार कर रही है. विश्लेषकों का इस शेयर में आकर्षण बढ़ने का यह भी एक कारण है. इसकी कमाई में बड़ी बढ़ोतरी होने की उम्मीद है. 31 में से 23 विश्लेषक इस शेयर में खरीद की सलाह दे रहे हैं. 4 का कहना है कि इसे होल्ड करना चाहिए. 4 ने ही इसमें बिक्री की राय दी है.

master6

पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें

टॉपिक

ONGC share priceओएनजीसी शेयर प्राइसन‍िवेश की सलाहउत्‍पादनक्रूडविश्‍लेषकों की रायओएनजीसी

ETPrime stories of the day

How Srei lenders hid potential related-party transactions by routing them through public trusts
Under the lens

How Srei lenders hid potential related-party transactions by routing them through public trusts

10 mins read
Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past
Investing

Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past

14 mins read
Lilly withered in India’s blooming diabetes market. Key deficiency: an India-specific sales pitch.
Pharma

Lilly withered in India’s blooming diabetes market. Key deficiency: an India-specific sales pitch.

9 mins read
ओएनजीसी के शेयरों में क्‍यों निवेश की सलाह दे रहे हैं विश्लेषक?

नयी दिल्ली, 19 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर सरकार द्वारा किए गए केंद्रित प्रयासों की वजह से आज भारतीय और वैश्विक निवेशक इस संघ शासित प्रदेश में निवेश करना चाहते है। केंद्र सरकार के जनता तक पहुंच के कार्यक्रम के तहत गोयल की दो दिन की पहलगाम यात्रा मंगलवार को संपन्न हुई। पहलगाम में अपने संबोधन में गोयल ने विकास प्रक्रिया में भागीदारी के लिए कश्मीर के लोगों का आभार जताया। एक आधिकारिक बयान के अनुसार, गोयल ने पर्यटन गतिविधियों के प्रसार में उनकी प्रतिबद्धता की सराहना की। उन्होंने कहाविशेषज्ञों का कहना है कि औद्योगिक कमोडिटीज में निवेश से सोने के मुकाबले बढ़िया रिटर्न मिल सकता हैबेटी की उम्र 8 साल है, सुकन्या समृद्धि और पीपीएफ में से किसमें निवेश करना फायदेमंद?

नयी दिल्ली, 19 अक्टूबर (भाषा) भारत ने वैश्विक खाद्य सुरक्षा (जीएफएस) सूचकांक-2021 में 113 देशों के बीच 71वां स्थान हासिल किया है। भारत कुल अंकों के लिहाज से दक्षिण एशिया में सबसे अच्छे स्थान पर रहा लेकिन खाद्य पदार्थों की वहनीयता के मामले में अपने पड़ोसी देशों पाकिस्तान और श्रीलंका से पीछे है।खाद्य पदार्थ वहनीयता श्रेणी में पाकिस्तान (52.6 अंक के साथ) ने भारत (50.2 अंक) से बेहतर अंक हासिल किया है।इकनॉमिस्ट इम्पैक्ट और कोर्टेवा एग्रीसाइंस द्वारा मंगलवार को जारी एक वैश्विक रिपोर्ट में कहा गया कि जीएफएस इंडेक्स-2021 की इस श्रेणी में श्रीलंका 62.9 अंकों के साथ और भी बेहतरफ्रैंकलिन टेंपलटन म्यूचुअल फंड ने शुक्रवार को कहा कि उसकी छह योजनाओं को अप्रैल 2020 में बंद होने के बाद से 15,776 करोड़ रुपये मिले हैं.सुपर साइकिल का ऐसे उठाएं फायदा, इन कमोडिटीज पर लगाएं दांव

डेट म्‍यूचुअल फंडों की कई कैटेगरी हैं. मनी मार्केट म्‍यूचुअल फंड उनमें से एक है. ये स्‍कीमें उन लोगों के लिए मुफीद होती हैं जो अपने निवेश के साथ बहुत कम जोखिम लेना चाहते हैं. चूंकि ये स्‍कीमें छोटी अवधि के इंस्‍ट्रूमेंट में पैसा लगाती हैं. इसलिए इन पर अर्थव्‍यवस्‍था में ब्‍याज दर में होने वाले बदलाव का ज्‍यादा असर नहीं पड़ता है. मनी मार्केट इंस्‍ट्रूमेंट के साथ कम जोखिम होने के कारण भी इनमें निवेश अपेक्षाकृत सुरक्षित होता है. आइए, यहां इनके बारे में कुछ जरूरी बातों को जानते हैं.फ्रैंकलिन टेंपलटन म्यूचुअल फंड ने शुक्रवार को कहा कि उसकी छह योजनाओं को अप्रैल 2020 में बंद होने के बाद से 15,776 करोड़ रुपये मिले हैं.ईटीएफ के बारे में यहां जानिए अपने हर सवाल का जवाब

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


स्लॉट युग मुक्त सिक्के
188bet बांग्लादेश
रूले कैसे खेलें
एस्पोर्ट्स पोस्टर
ओडिबेट्स जैकपॉट बोनस
शतरंज न नियामो गुजराती मां
किस कैसीनो की सबसे अच्छी प्रतिष्ठा है
फुटबॉल स्थानांतरण
रूले परिभाषा
शुमान द्वारा खुश किसान
लूडो हाई
भारत में कैसीनो
स्पोर्ट्सबुक विगो
स्टेटस शेयर चैट
एम.लवबेट1
ऑनलाइन कैसीनो यूएसए
लॉटरी यूके
इंडिबेट बोनस
कैसीनो फ्रांस
बेटा और बेटी की शादी
पी स्पोर्ट्स लोअर
ऑनलाइन रियल मनी एंटरटेनमेंट
लॉटरी जैकपॉट परिणाम
ऑनलाइन नकद शतरंज और कार्ड मंच
बैकरेट स्टैंड-अलोन डाउनलोड
खेल धौ
आभासी क्रिकेट आईपीएल